Home / International Sports / अश्वेतों पर हिंसा : ओसाका हटीं, रूका टेनिस टूर्नामेंट, एनबीए, बेसबाल व पर भी संकट

अश्वेतों पर हिंसा : ओसाका हटीं, रूका टेनिस टूर्नामेंट, एनबीए, बेसबाल व पर भी संकट

अमेरिका में कुछ माह पहले अश्वेत जार्ज फ्लाएड की पुलिस हिरासत में दर्दनाक मौत के बाद भड़की हिंसा मुश्किल से शांत हुई थी कि हाल ही अश्वेत जैकब ब्लैक की पुलिसकर्मी ने हत्या कर दी। इसके बाद अमेरिका में कई शहरों में फिर हिंसा भड़क उठी है।

इस माहौल के छींटे अमेरिका में चल रही खेल प्रतियोगिताओं पर तब पड़ गए जब जापान की चौथी वरीय नाओमी ओसाका ने वेस्टर्न एंड सदर्न टेनिस टूर्नामेंट में 26 अगस्त को महिला एकल सेमीफाइनल में पहुंचने के बाद टूर्नामेंट से नस्लीय न्याय की मांग के साथ टूर्नामेंट से नाम वापस ले लिया।

फिर उन्हें अन्य खिलाड़ियों का समर्थन मिलने के चलते टूर्नामेंट एक दिन के लिए पोस्टपोन कर दिया गया। इस बारे में अमेरिकी टेनिस संघ (यूएसटीए) एटीपी टूर और डब्ल्यूटीए ने बयान जारी किया कि खेल के तौर पर अमेरिका में नस्लीय असमानता और सामाजिक अन्याय के खिलाफ टेनिस का सामूहिक है। हमने फैसला लिया है कि वेस्टर्न एंड सदर्न ओपन टूर्नामेंट में 27 अगस्त तक खेल बंद रखा जाएगा।

महिला वर्ग में शीर्ष 10 में शामिल ओसाका ने ट्वीट में लिखा कि अश्वेत महिला होने के नाते मुझे लगता है कि अश्वेतों पर पुलिस अत्याचार के खिलाफ मुझे टूर्नामेंट से हटना चाहिए। मुझे नहीं लगता कि मेरे हटने से ज्यादा प्रभाव पड़ेगा लेकिन इससे श्वेत प्रभाव वाले खेल में चर्चा शुरू हो सकती है तो यह सही फैसला होगा। मैं पुलिस द्वारा अश्वेतों पर लगातार अत्याचार से काफी आहत हूं।

इसके बाद अमेरिकी अश्वेत खिलाड़ी सलोनी स्टीफंस ने ओसाका का ट्वीट रिट्वीट किया और लिखा कि मुझे गर्व है। वहीं बुधवार को अंतिम चार में जगह बनाने वाले मिलोस राओनिच ने इस बारे में एटीपी और डब्ल्यूटीए को संयुक्त कार्रवाई के बारे में सोचने की बात कहीं।  ओसाका ने क्वार्टर फाइनल में एनेट कोंटावीट को 4-6, 6-2, 7-5 से हराया था और उनकी अब एलिस मर्टन्स से टक्कर होनी थी।

वहीं महिला वर्ग का दूसरा सेमीफाइनल विक्टोरिया अजारेंका और आठवीं वरीय योहाना कोंटा के मध्य होना है। इसके साथ पुरुष वर्ग के सेमीफाइनल में नोवाक जोकोविच बनाम राबर्टो बातिस्ता आगुट और स्टेफेनोस सिटसिपास और राओनिच के बीच मैच होगा।

वैसे नाओमी ओसाका के इस फैसले के साथ बास्केटबॉल, बेसबॉल और फुटबॉल में भी बदलाव की मांग उठने लगी है। इस बारे में नेशलब बॉस्केटबॉल एसोसिएशन (एनबीएद्ध) महिला एनबीए, मेजर लीग बेसबॉल और मेजर लीग सॉकर (फुटबॉल) के मैच भी पोस्टपोन कर दिए गए है।

About Aditya Srivastava

Check Also

IND VS AUS : पहले टी-20 बस थोड़ी देर में होगा शुरू

भले ही भारतीय टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वन डे सीरीज हार गई हो लेकिन टी-20 ...