Home / International Sports / नकारा गया टोक्यो ओलंपिक के सबसे ज्यादा खर्चीले होने का दावा

नकारा गया टोक्यो ओलंपिक के सबसे ज्यादा खर्चीले होने का दावा

कोरोना वायरस की महामारी के चलते इस साल स्थगित किए गए टोक्यो ओलंपिक खेल अब अगले साल होंगे। इस बीच आक्सफोर्ड विश्वविद्यालय की नई स्टडी सामने आई है जिसमें कहा गया है कि टोक्यो ओलंपिक 1960 के बाद से अब तक के सबसे ज्यादा खर्च वाले ग्रीष्मकालीन खेल होंगे।

मंगलवार को रिग्रेशन टू द टेलः वाय द ओलंपिक्स ब्लोअप शीर्षक से प्रकाशित अर्थशास्त्री बेंट फ्लिवबर्ग की स्टडी में ये लिखा है कि आमतौर पर ओलंपिक का खर्च बजट से औसतन 170 प्रतिशत अधिक होता है लेकिन टोक्यो के मामले में यह अनुमानित आंकड़ा 200 प्रतिशत होगा।

हालांकि टोक्यो ओलंपिक के सीईओ तोशिरो मुतो व जापान खेलों के अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (आईओसी) ने इस स्टडी के आंकलन को नकारते हुए इसे आधारहीन बताया है। कोरोना वायरस महामारी के कारण तोक्यो ओलंपिक को 2021 तक स्थगित किया गया है।

About Aditya Srivastava

Check Also

 जोकोविच, फेडरर, नडाल और तियाफोई को एटीपी पुरस्कार-2020

एटीपी के शीर्ष पुरस्कार पर इस साल नोवाक जोकोविच, रोजर फेडरर, राफेल नडाल और फ्रांसिस ...