Home / International Sports / जापान में 32 प्रतिशत की चाह, रद्द हो टोक्यो ओलंपिक

जापान में 32 प्रतिशत की चाह, रद्द हो टोक्यो ओलंपिक

कोरोना की मार टोक्यो ओलंपिक पर भी पड़ी है. इन खेलों को इस वर्ष जुलाई-अगस्त में होना था लेकिन इसे  2021 तक के लिये पोस्टपोन कर दिया गया.  इसी बीच जापान में 32 प्रतिशत लोगों का मानना है कि अगले वर्ष होने वाले टोक्यो ओलंपिक और पैरालंपिक खेलों को रद्द करना चाहिए. हाल में हुए एक ताजा ओपिनियन पोल में ये बात सामने आई है.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के मुताबिक, जापान के प्रसारणकर्ता एनएचके ने पिछले सप्ताह फोन सर्वे आयोजित किया था. जिसमें उसे 1200 से ज्यादा लोगो के जवाब मिले. प्रसारणकर्ता ने इन लोगों से पूछा था कि, क्या 2021 में ओलंपिक और पैरालंपिक खेलों की मेजबानी होनी चाहिए. एनएचके के सर्वे में ये बात सामने आई है कि 27 प्रतिशत लोगों का मानना है कि इन खेलों की मेजबानी होनी चाहिए.

वही 32 प्रतिशत लोगों का मानना है कि इसे रद्द करना चाहिए. 31 प्रतिशत लोगों का बोलना है कि, इसे भविष्य के लिये पोस्टपोन होना चाहिए.
इससे पहले अक्टूबर में आयोजित एक सर्वे में 40 प्रतिशत ने खेलों की मेजबानी करने की, 23 प्रतिशत ने इसे रद्द करने की और 25 प्रतिशत ने इसे पोस्टपोन करने की मांग की.

About Aditya Srivastava

Check Also

 जोकोविच, फेडरर, नडाल और तियाफोई को एटीपी पुरस्कार-2020

एटीपी के शीर्ष पुरस्कार पर इस साल नोवाक जोकोविच, रोजर फेडरर, राफेल नडाल और फ्रांसिस ...