Home / International Sports / आईसीसी हॉल ऑफ फेम : आखिर गावस्कर क्यों  बोले देर आए दुरस्त आए

आईसीसी हॉल ऑफ फेम : आखिर गावस्कर क्यों  बोले देर आए दुरस्त आए

कोरोना काल में खेलों की दुनिया पर ब्रेक लग गया है और जो भी आयोजन हो रहे है, उनका स्वरुप बदल गया है.  इसके चलते इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) द्वारा कोरोना महामारी के कारण वर्चुअल आईसीसी हॉल ऑफ फेम समारोह-2020 का आयोजन हुआ.

इस समारोह में दिग्गज दक्षिण अफ्रीकी ऑलराउंडर जॉक कैलिस, पाकिस्तान के महान बल्लेबाज जहीर अब्बास और पुणे में जन्मीं पूर्व ऑस्ट्रेलिया महिला कप्तान लीसा स्टालेकर को हॉल ऑफ फेम में जगह मिली है.  44 वर्षीय कैलिस ने दक्षिण अफ्रीका की ओर से 1995 से लेकर 2014 तक 166 टेस्ट, 328 वनडे और 25 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले.

वो दक्षिण अफ्रीका से टेस्ट (13,289 रन) और वन डे (11,579 रन) में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं. उन्होंने तेज गेंदबाज के तौर पर टेस्ट में 292 और वनडे में 273 विकेट झटके.  पाकिस्तान के जहीर अब्बास ने 78 टेस्ट मैच में 5062 रन और 62 वनडे में 2572 रन बनाए. वो फर्स्ट क्लास में 100 से अधिक शतक लगाने वाले पहले एशियाई बल्लेबाज हैं.  उन्हें एशियाई ब्रैडमैन भी कहा जाता है.

ऑस्ट्रेलिया की लीसा स्टालेकर स्टालेकर नेआठ टेस्ट, 125 वनडे और 54 टी20 अंतरराष्ट्रीय मैच खेले है. इस समारोह में कैलिस के साथी शॉन पोलाक और आईसीसी हॉल ऑफ फेम में 2009 में भारतीय दिग्गज सुनील गावस्कर भी शामिल हुए. इस समारोह में गावस्कर ने कहा कि ये लोग आईसीसी हॉल ऑफ फेम के सच्चे हकदार थे.

गावस्कर ने जहीर अब्बास की तारीफ करते हुए कहा कि वो केवल आस्ट्रेलिया ही नहीं भारत में भी प्रेरणास्रोत है. मुझे नहीं पता कि उन्हें सम्मान मिलने में इतनी देर क्यों हुई लेकिन देर आए दुरस्त आए.

About Aditya Srivastava

Check Also

 जोकोविच, फेडरर, नडाल और तियाफोई को एटीपी पुरस्कार-2020

एटीपी के शीर्ष पुरस्कार पर इस साल नोवाक जोकोविच, रोजर फेडरर, राफेल नडाल और फ्रांसिस ...

Leave a Reply

Your email address will not be published.