Latest News
Home / State Sports / Ghaziabad : नई व बेहतरीन जानकारियों के साथ खिलाड़ियों को प्लेटफार्म देगी स्पोर्ट्स जोन

Ghaziabad : नई व बेहतरीन जानकारियों के साथ खिलाड़ियों को प्लेटफार्म देगी स्पोर्ट्स जोन

गाजियाबाद। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में शामिल गाजियाबाद में हिंदी की पहली मासिक खेल पत्रिका स्पोर्ट्स जोन की लांचिंग के साथ यहां स्पोर्ट्स प्रमोशन को नया आयाम मिला।
सोशल डिस्टेसिंग के साथ गाजियाबाद ओलंपिक संघ व यूपी मुए थाई एसोसिएशन के तत्वावधान में हुए इस समारोह में  ओलंपिक संघ के चेयरमैन कमल शेखारी ने   पत्रिका के साथ यूट्यूब चैनल व न्यूज पोर्टल की अवधारणा को मूर्त रूप देने के लिए प्रधान संपादक डा.आनन्देश्वर पाण्डेय (महासचिव उत्तर प्रदेश ओलंपिक एसोसिएशन)  व आइकोनिक ओलंपिक गेम्स अकादमी के प्रबंध निदेशक सैयद रफत जुबैर रिजवी (एसोसिएट उपाध्यक्ष उत्तर प्रदेश ओलंपिक एसोसिएशन व कार्यकारी अध्यक्ष लखनऊ ओलंपिक एसोसिएशन) को बधाई दी।
उन्होंने कहा कि खेल जगत में हिंदी की मासिक खेल पत्रिका का अभाव था और इस पत्रिका से इस खालीपन को भरा जाएगा, ऐसा मेरा विश्वास है।
गाजियाबाद ओलंपिक एसोसिएशन के सचिव नरेंद्र शर्मा ने कहा कि  ये पत्रिका  नई व बेहतरीन जानकारियों के साथ खिलाड़ियों को प्लेटफार्म देगी और खेल महाशक्ति बनाने के मिशन को  आगे बढ़ाएगी।  कराटे संघ ऑफ इंडिया के अध्यक्ष अनिल कौशिक के अनुसार  इस पत्रिका के साथ यू ट्यूब चैनल व न्यूज पोर्टल की शुरुआत से प्रधानमंत्री के फिट इंडिया क मिशन को बढ़ावा मिलेगा।
अंतरर्राष्ट्रीय कोच अमित शर्मा ने कहा कि गाजियबाद पहले से ही खेल सुविधाओं में अग्रणी है। अब स्पोर्ट्स जोन की पहल से यहां खेल व खिलाड़ियों को नए आयाम मिलेंगे।  गाजियाबाद ओलंपिक एसोसिएशन के पीआरओ व यूपी मुए थाई एसोसिएशन के अध्यक्ष दयाचंद भोला ने कहा कि  स्पोर्ट्स जोन के माध्यम से नई खेल जानकारियां सब तक  पहुंचेगी। इससे खिलाड़ियों की खेल प्रतिभाओं में भी निखार आएगा।
पत्रिका के स्थानीय संपादक वीरेंद्र शुक्ल ने कहा कि हिंदी में ऐसी खेल पत्रिका की शुरुआत की जरूरत काफी लंबे समय से महसूस की जा रही है। स्पोर्ट्स जोन इसी क्षेत्र में काम करेगी।  स्पोर्ट्स जोन के निदेशक सैयद रामिश ने आइकोनिक ओलंपिक गेम्स अकादमी द्वारा खेलों के लिए नया माहौल तैयार करने व स्कूल में खेलों को प्रमोट करने की रूपरेखा प्रस्तुत की।

About Aditya Srivastava

Check Also

लखनऊ के द्रोणाचार्य अवार्डी गौरव खन्ना को भी मिलेगी 20 हजार प्रति माह की मदद 

लखनऊ। खेल का मतलब ही चुनौती है, इसलिए एक खिलाड़ी को हमेशा इसके लिए तैयार ...