Home / International Sports / आईपीएल टाइटल प्रयोजन की होड़ में “ड्रीम इलेवन” ने मारी बाजी

आईपीएल टाइटल प्रयोजन की होड़ में “ड्रीम इलेवन” ने मारी बाजी

चीन की मोबाइल कंपनी वीवो के इस साल आईपीएल की  टाइटल स्पॉन्सरशिप से हटने के बाद बीसीसीआई द्वारा इस साल प्रायोजक की तलाश की जा रही थी. वैसे तो अनएकेडमी, टाटा से इस होड़ में  फंतासी स्पोर्ट्स मंच ‘ड्रीम इलेवन’ के हाथ में बाजी हाथ लगी है.

इस बारे में आईपीएल चेयरमैन बृजेश पटेल के अनुसार इस साल  आईपीएल के लिए टाइटल स्पॉन्सरशिप को  दी गयी है जिसने 222 करोड़ रुपये की बोली लगायी थी.

दूसरी ओर कोरोना काल में भारत में आईपीएल का आयोजन जब भारत में संभव नहीं हो सका था तब बड़ी दिक्कत के बाद  आयोजन के लिए यूएई को चुना गया जहां इस लीग के 13वें सीजन का आयोजन 19 सितंबर से 10 नवंबर तक होगा. हालांकि उसके बाद तब दिक्कत बढ़ गयी थी जब भारत-चीन विवाद के चलते आईपीएल टाइटल प्रायोजन पर खासा विवाद खड़ा हॉ गया था.

इसके बाद  बीसीसीआई ने भारत में चीनी उत्पादों के बहिष्कार की मुहिम के चलते  चीनी मोबाइल कंपनी वीवो का 2020 आईपीएल के लिए टाइटल प्रयोजन निलंबित कर दिया था.

ये भी पढ़े :

आईपीएल के प्रायोजन की होड़ में पतंजलि पिछड़ी, ये इंडियन कंपनी सबसे आगे 

भारत में नहीं हुआ टी-20 वर्ल्ड कप-2021 तो फिर किस जगह होगा 

 

वैसे टाइटल प्रायोजन राशि का आधा हिस्सा  आठों फ्रेंचाइजी में बराबर बराबर बांटा जाता है. वैसे  वीवो ने 2018 से 2022 तक पांच साल के लिए 2190 करोड़ रुपये में (प्रत्येक वर्ष 440 करोड़ रुपए) आईपीएल टाइटल प्रायोजक बना था और ये भी कहा जा रहा है कि अगले साल फिर आईपीएल का टाइटल प्रायोजक हो सकता है.

फिर बीसीसीआई ने नये स्पॉन्सर की तलाश शुरू की थी. इस रेस में   टाटा ग्रुप, शिक्षा प्रौद्यौगिकी कंपनी ‘अनअकैडमी’ और ‘ड्रीम11’ ने  इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के टाइटल प्रायोजन  के लिए दस्तावेज (एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट) यानी ईओआई बीसीसीआई को दिए थे. रेस में टाटा ग्रुप ने  180 करोड़, ड्रीम इलेवन ने 222 करोड़, अनएकेडमी ने 210 करोड़ और  बायजू ने 125 करोड़ की बोली लगायी थी.

हालांकि योग गुरु रामदेव की कंपनी पतंजलि के भी इस होड़ में होने की बात चली थी लेकिन कुछ दिन पहले  हरिद्वार में पतंजलि योगपीठ में रामदेव ने ये कह कर इस पर विराम लगा दिया था कि  अगर कोई भारतीय कंपनी नहीं मिली तभी पतंजलि प्रायोजन के लिए आगे आयेगी. उन्होंने ये भी कहा कि अभी कुछ बोलना  जल्दबाजी होगी.

About Aditya Srivastava

Check Also

 जोकोविच, फेडरर, नडाल और तियाफोई को एटीपी पुरस्कार-2020

एटीपी के शीर्ष पुरस्कार पर इस साल नोवाक जोकोविच, रोजर फेडरर, राफेल नडाल और फ्रांसिस ...

Leave a Reply

Your email address will not be published.