Home / International Sports / Corona Effect : इस साल प्रीमियर बैडमिंटन लीग सीजन-6 टली

Corona Effect : इस साल प्रीमियर बैडमिंटन लीग सीजन-6 टली

 

प्रीमियर बैडमिंटन लीग (पीबीएल) के छठे सीजन को कोरोना महामारी की वजह से पोस्टपोन हो गया है. दुनिया में सबसे अधिक प्राइज मनी वाले टूर्नामेंट के तौर पर अपनी साख बना चुकी इस लीग के बीते पांच संस्करणों में विश्व के टाप-10 खिलाड़ी हिस्सा लेते रहे हैं और इनकी मौजूदगी में दुनिया को रोमांचक बैडमिंटन एक्शन देखने को मिलता रहा है.

लीग के छठे सीजन का आयोजन दिसम्बर के अंतिम सप्ताह में होना था लेकिन अब जबकि इसे पोस्टपोन किया गया है, इसका आयोजन अगले साल की शुरूआत मे होगा और इसके लिए नई तारीखों की घोषणा जल्द होगी.  छठे सीजन को स्थगित करने का फैसला इस लीग के आधिकारिक लाइसेंस होल्डर-स्पोटर्जलिव ने भारतीय बैडमिंटन संघ (बीएआई) से सलाह के बाद लिया.

स्पोटर्जलिव ही राष्ट्रीय खेल महासंघ के बैनर तले इस टूर्नामेंट का आयोजन कराता है. दोनों संगठनों ने इंटरनेशनल ट्रेवल सम्बंधी गाइडलाइंस और उसमें निहित प्रतिबंधों को ध्यान में रखते हुए यह फैसला लिया. साथ ही लीग से जुड़े खिलाड़ियों और सभी हितधारकों की सुरक्षा को ध्यान में रखकर भी यह फैसला लिया गया.

ऐसे में जबकि दुनिया भर में खेल गतिविधियां तेजी से लौटने लगी हैं, आयोजकों को उम्मीद है कि वे अगले साल इस लीग का आयोजन करा सकेंगे. स्पोटर्जलिव के एमडी प्रसाद मांगीपुदी ने कहा कि पीबीएल का असल विंडो दिसम्बर का अंत और जनवरी है. इस साल दुनिया कोरोना वायरस से लड़ रही है और हम हालात पर पैनी नजर रखे हुए हैं.

स्वास्थ्य और सुरक्षा हमारे लिए सबसे जरूरी हैं और इसी कारण हमने बीएआई से सलाह के बाद गाइडलाइंस, प्रोटोकॉल्स और प्रतिबद्धताओं को ध्यान में रखते हुए 2021 के लिए नई तारीखों की घोषणा का फैसला किया है. पीबीएल ने सभी शटलरों को न केवल अपने कौशल का प्रदर्शन करने के लिए एक मजबूत मंच प्रदान किया है. बल्कि उनके करियर के विकास में भी आर्थिक मदद की है.

युवा भारतीय शटलरों के लिए, इसने दुनिया के शीर्ष खिलाड़ियों के साथ खेलने का अवसर दिया है, जिसके परिणाम स्वरूप पिछले पांच वर्षों में देश में बैडमिंटन का विकास हुआ है. मांगीपुदी ने कहा, ‘‘देश में फिर से कोरोना के मामले बढ़ने लगे हैं और देश तथा दुनिया इसकी दूसरी लहर की चपेट में है. ऐसे में यह उचित होगा कि हम स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी कोविड-19 संबंधी सलाह का पालन करें.

हालांकि, हाल ही में वैक्सीन की घोषणा के साथ, हम आशावादी हैं कि अर्थव्यवस्था में सुधार होगा और जल्द ही अंतरराष्ट्रीय यात्रा सहित अन्य चीजें सामान्य स्थिति में लौट आएंगी. लीग ने अगले सत्र से पहले बैडमिंटन की गतिविधियों को वापस लाने के लिए ग्रासरूट लेबल के साथ-साथ अन्य बैडमिंटन गतिविधियों को शुरू करने की योजना बनाई है.

About Aditya Srivastava

Check Also

 जोकोविच, फेडरर, नडाल और तियाफोई को एटीपी पुरस्कार-2020

एटीपी के शीर्ष पुरस्कार पर इस साल नोवाक जोकोविच, रोजर फेडरर, राफेल नडाल और फ्रांसिस ...