Home / National Sports / कोरोना संक्रमित पूर्व क्रिकेटर चेतन चौहान का देहांत, क्रिकेट से लेकर राजनीति में रही शानदार पारी

कोरोना संक्रमित पूर्व क्रिकेटर चेतन चौहान का देहांत, क्रिकेट से लेकर राजनीति में रही शानदार पारी

पूर्व भारतीय क्रिकेटर और वर्तमान में उत्तर प्रदेश के होमगार्ड मंत्री और पूर्व क्रिकेटर चेतन चौहान का आज देहांत हो गया. गत  19 जुलाई को कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद लखनऊ के एसजीपीजीआई में भर्ती किये जाने के बाद उन्हें हाल ही में  गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में शिफ्ट किया गया था जहां आज  लगभग 4:30 बजे कार्डियक अरेस्ट के चलते उन्होंने अंतिम सांस ली.

उनको शनिवार को किडनी फेल होने के चलते  लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर इलाज करके हालत सँभालने की कोशिश की गयी थी. हालांकि दिन में उनके रिश्तेदार मुकुल ने चेतन चौहान की तबीयत में सुधार  की जानकारी दी थी.

यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार में कैबिनेट मंत्री चेतन चौहान के पास सैनिक कल्याण, होमगार्ड, पीआरडी और नागरिक सुरक्षा मंत्रालय का प्रभार है  जबकि इससे पहले वो खेल मंत्री भी रहे है. बीजेपी से दो बार के लोकसभा सांसद रहे 73 वर्षीय चेतन चौहन अमरोहा जिले के नौगांवा विधानसभा से विधायक है.

ये भी पढ़े : कोरोना पाजीटिव पूर्व टेस्ट क्रिकेटर चेतन चौहान वेंटीलेटर पर, किडनी फेल, हालत गंभीर

चेतन चौहान योगी सरकार में दूसरे ऐसे कैबिनेट मंत्री हैं, जिनका कोरोना संक्रमण के बाद निधन हुआ है. इससे पहले कैबिनेट मंत्री कमला रानी की  कोरोना महामारी के चलते मौत हुई थी.

पीएम  मोदी, सीएम योगी ने भी जताया शोक

खिलाड़ियों की मदद को हमेशा रहते थे तैयार : डॉ. आरपी सिंह

उनके निधन पर उत्तर प्रदेश के खेल निदेशक डॉ. आरपी सिंह ने भी दुःख जताया. उन्होंने कहा कि चेतन चौहान ने खेल मंत्री के तौर पर यूपी में खिलाडिय़ों को काफी बढ़ावा दिया था. उन्होंने चेतन चौहान के निधन को खेल जगत के लिए काफी गहरा  झटका दिया. उन्होंने कहा कि खेल मंत्री के पद से हटाये जाने के बाद भी उनके दरवाजे खिलाड़ियों के लिए हरदम खुले रहते थे.

लम्बे समय तक रहे सुनील गावस्कर के सलामी जोड़ीदार

चेतन चौहान ने  भारत के लिए 40 टेस्ट मैच खेले है और दिग्गज सुनील गावस्कर के लम्बे समय तक सलामी जोड़ीदार भी रहे है. चेतन चौहान ने भारत की ओर से सात वन डे मैच भी खेले है. टेस्ट मे चेतन चौहान ने  2084 रन बनाये है और उनका टेस्ट में बेस्ट स्कोर 97 रन है.

उन्होंने 70 के दशक में सुनील गावस्कर के साथ सलामी साझेदारी में तीन हजार रन बनाये थे. इन दोनी ने 1979 में ओवल टेस्ट में इंग्लैंड के खिलाफ 213 बनाये थे और 203 रनों की लंबी पार्टनरशिप का रिकॉर्ड तोड़ा था.

रिकॉर्ड पर एक नजर

  • 1969 में टेस्ट क्रिकेट से इंटरनेशनल क्रिकेट में किया पर्दापण
  • 1978 में वनडे क्रिकेट में डेब्यू
  • 1970 के दशक में गावस्कर के साथ पारी की शुरुआत करते रहे
  • 1981 में आखिरी टेस्ट मैच खेला 40 टेस्ट में बनाये 2084 रन 1981 में अर्जुन अवॉर्ड से सम्मानित
  • टेस्ट मैचों में सर्वोच्च स्कोर 97 रन
  • सात वन डे मैच भारत का प्रतिनिधित्व
  • इंटरनेशनल वनडे क्रिकेट में153 रनप्रथम श्रेणी क्रिकेट में 11 हजार रन
  • 179 प्रथम श्रेणीमैचों में 40.22 की औसत से 11 हजार 143 रन
  •  करियर में नहीं जड़ा है एक भी शतक

About Aditya Srivastava

Check Also

वीडियो : सानिया ने बेटे से कुछ ऐसा पूछा कि जवाब सुनकर…

भारत की स्टार टेनिस खिलाड़ी सानिया मिर्जा इन दिनों टेनिस से दूर है। ऐसे में ...

Leave a Reply

Your email address will not be published.