Home / National Sports / आखिर क्यों संन्यास से वापसी के मूड में है युवी, बीसीसीआई अध्यक्ष को लिखा पत्र 

आखिर क्यों संन्यास से वापसी के मूड में है युवी, बीसीसीआई अध्यक्ष को लिखा पत्र 

कोई खिलाड़ी जब खेल से संन्यास लेता है तो कहा जाता है कि वो अब अपनी दूसरी पारी शुरू करेगा.  हालांकि कुछ क्रिकेटरों ने संन्यास लेने के बाद वापसी की है. अब इस क़तार में पूर्व इंडियन बल्लेबाज युवराज सिंह  भी शामिल हो गये है. दरअसल पिछले साल 10 जून को क्रिकेट के सभी प्रारूप से रिटायरमेंट लेने वाले पूर्व बल्लेबाज युवराज फिर से क्रिकेट में वापसी के मूड में है.

युवराज सिंह ने अपने संन्यास को वापस लेने के लिए बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली को एक लेटर लिखा है. अब ये कहा जा रहा है कि वो अगले सत्र में पंजाब टीम से खेल सकते है. वैसे पंजाब क्रिकेट संघ ने युवराज सिंह से रिटायरमेंट के निर्णय को वापस लेने के साथ पंजाब की घरेलू टीम का प्लेयर और मेंटर बनने की अपील की है.

पीसीए सचिव पुनीत बाली के अनुसार युवराज से अपील है कि जो पहले ही शुभमन गिल सहित कुछ युवा प्लेयर्स का गाइड कर रहे है. वैसे इंटरनेशनल क्रिकेट से 2019 में रिटायरमेंट के बाद युवराज ने दो विदेशी लीग-ग्लोबल टी-20 कनाडा और अबु धाबी टी-10 लीग में हिस्सा लिया था.

युवराज ने क्रिकेट में लौटने की योजना पर बोला कि, “मैंने शुभमन गिल, अभिषेक शर्मा, प्रभसिमरन सिंह, अनमोलप्रीत सिंह जैसे पंजाब के युवा क्रिकेटरों के साथ मोहाली के पीसीए स्टेडियम में काफी साथ रहा है जहां मैंने इन युवा क्रिकेटरों से खेल के विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की है.  उन्होंने कहा कि शुभमन पहले से टीम इंडिया से खेल रहे हैं और मेरे हिसाब से अन्य तीन खिलाड़ी भी प्रतिभाशाली है.

युवराज ने कहा कि मैं जो बोल रहा था वो सभी उसे समझ रहे थे. उन युवा प्लेयर्स को खेल के कुछ और मुद्दों पर बात करने के लिए मैं नेट पर गया था. नेट पर जैसे ही मैंने बॉल को मारा ये जानकर मैं हैरान हुआ कि मैंने लंबे टाइम से बैट से क्रिकेट नही खेला था. वही युवराज सिंह द्वारा  आने वाले घरेलू क्रिकेट में पंजाब की और खेलने की उम्मीद जताई जा रही है.

उन्होंने  एक क्रिकेट साइट को दिए इंटरव्यू में  इस बात का खुलासा किया. इस रिपोर्ट के अनुसार युवराज सिंह ने अपने मेल में लिखा है कि अगर मुझे पंजाब के लिए खेलने की अनुमति मिलेगी तो मैं देश से बाहर खेलने का विचार छोड़ दूंगा.  37 साल के युवराज सिंह ने अंतिम वनडे मैच 30 जून 2017 को वेस्टइंडीज के खिलाफ,  अंतिम टी-20 मैच 1 फरवरी 2017 को इंग्लैंड के खिलाफ  और अंतिम टेस्ट मैच दिसंबर 2012 में इंग्लैंड के खिलाफ खेला था.

युवराज सिंह ने भारत के लिए 40 टेस्‍ट में 1900 रन, 304 वनडे में  8701 और 58 टी-20 मैचों में  1177 रन बनाए थे. 2007 में टी-20 वर्ल्‍डकप और 2011 में वनडे वर्ल्‍डकप विजेता भारतीय  टीम में शामिल रहे युवराज ने गेंदबाजी भी की है. उन्होंने टेस्ट में 9, वनडे में 111 और टी-20 में 28 विकेट लिए है.

About Aditya Srivastava

Check Also

आईपीएल-2022 में देखने को मिलेंगी दस टीम

हाल ही में यूएई में आईपीएल का सफल आयोजन हुआ था. आईपीएल 2020 का फाइनल ...